भगवान हनुमान का ऐसा चमत्कारिक मंदिर, जहां ट्रेन की रफ्तार धीमी हो जाती और भविष्य दिखाई देता है

0
1821
Bolai Hanuman Temple
Mysterious Bolai Hanuman Temple Shajapur Madhya Pradesh Info. Trains passing near temple is automatically slows down their speed.

Bhopal/Shajapur: भारत में ऐसे कई चमत्कारिक मंदिर स्थित हैं, को विज्ञान की समझ से भी परे हैं। अनेकों प्राचीन हिन्दू मंदिर रहस्यमई हैं और कोई भी उनका रहस्य आज तक समझ नहीं पाया है। आज भी हम एक ऐसे चमत्कारिक मंदिर की बात करेंगे जो भी कलयुग के देवता हनुमान जी का मंदिर हैं।

इस हनुमान मंदिर में लाखों भक्तों की आस्था है और रोज हज़ारो लोग यहाँ दर्शन को आते हैं। मध्य प्रदेश के शाजापुर (Shajapur) से लगभग 30 किलोमीटर दूर बोलाई गांव (Bolai Village) में हनुमान जी विराजमान हैं। बोलाई में हनुमान जी का प्रसिद्ध मंदिर है, यहां पर बाहर दूर-दूर से लोग मनोकामनाएं लेकर हनुमान जी के दर्शन के लिए आते हैं।

जानकारी के अनिसार अभी का हालिया मंदिर का निर्माण 300 साल पहले देवी सिंह ने करवाया था। यहां वर्ष 1959 में संत कमल नारायण त्यागी ने अपने व्यस्त जीवन को त्याग कर उक्त स्थान को अपनी तपोभूमि बनाया था और 24 वर्षों तक कड़ी तपस्या कर सिद्धि प्राप्त की थी।

रतलाम-भोपाल के बीच गुजरने वाली रेलवे लाइन के पास बोलाई स्टेशन (Bobai Station) के पास स्थापित बजरंग बली के मंदिर से जुड़ी ये कहानी भी अलग ही आस्था पैदा करती है। बोलाई में हनुमान जी का प्रसिद्ध मंदिर है। यहां पर दूर-दराज से लोग मनोकामनाएं लेकर हनुमान बाबा के दर्शन के लिए आते हैं। मंदिर के बारे में कहा जाता है कि मंदिर के सामने से जो भी ट्रेन निकलती है। उसकी रफ्तार अपने आप कम हो जाती है।

हनुमान मंदिर में पैर रखते भी भविष्य देखने लगता है

माना जाता है कि जो व्यक्ति व्यक्ति इस मंदिर (Bobai Hamuman Temple) के भीतर अपना पैर रखता है उसे अपने भविष्य में होने वाली घटनाएं दिखने लगती (Future Intuition) हैं। उसका सिक्स्थ सेंस अचानक से बहुत तेज हो जाता है, जिसकी वजह से वे अपने भविष्य को लेकर सावधान और सतर्क हो जाते हैं।

मध्य प्रदेश के इस मंदिर में हनुमान जी एक ही मूर्ति देखने को मिलती हैं। यहाँ मान्यता है कि जो व्यक्ति श्रद्धा और भक्ति भाव से इस मंदिर में दर्शन को आता है, उसकी मनोकामना जरूर पूरी होती है। यहाँ हर शनिवार-मंगलवार और बुधवार भक्तों की भीड़ लगी रहती है। यह प्रतिमा बेहद पवित्र और फलदायी मानी जाती है। कुछ लोग कहते हैं कि यह मंदिर 600 साल पुराना है, तो कुछ इसे इससे भी ज्यादा पुराना मानते हैं।

इस मंदिर के अंदर मनुष्य का सिक्स्थ सेंस बढ़ जाता है

इस मंदिर का एक चमत्कार बहुत खास है कि जो भी शख्स इस मंदिर के अंदर अपना पैर रखता है, उसे अपने भविष्य में होने वाली घटनाएं दिखने लगती हैं। उसका सिक्स्थ सेंस एकदम से बहुत तेज हो जाता (Sixth Sense Increase In Hamuman Temple) है, जिसके कारण वह अपने भविष्य को लेकर सावधान और सतर्क हो जाते हैं। उन्हें पहले से आभास हो जाता हैं।

मंदिर के पास से निकलने वाली ट्रैन घीमी हो जाती है

इसके अलावा, रेलवे ट्रैक के बहुत ही पास बने इस मंदिर के सामने से जब भी कोई ट्रेन निकलती है, तो उसकी गति अचानक से धीमी हो जाती है। यहाँ आप पास के लोगों के अनुसार, एक बार सालों पहले यहां दो मालगाड़ियां आपस में टकरा गई थी।

Indian Railway File Free Photo.

इस रेल घटना होने से पहले ट्रेन के चालक को ऐसा आभास भी होने लगा था, लेकिन उसने इस बात को इग्नोर किया और दो ट्रेनों की आपस में टक्कर हो गई थी। ट्रेन चालक यह कहते हैं कि जब भी उनकी ट्रेन मंदिर के पास से गुजरती है, तो ड्राइवर को स्पीड कम करनी पड़ती है और अगर कोई ड्राइवर ऐसा नहीं करता तो ट्रेन की रफ्तार अपने आप ही काम हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here