मां की एक सलाह ने दिखाई राह और बेटा CA से IRS अफसर बन गया, UPSC परीक्षा में किया कमाल

0
1849
IRS Shreyansh Surana
Shreyansh Surana Cleared UPSC Exam With AIR 269. Success story of IRS Shreyansh Surana. This incident gave him UPSC idea.

Betul: लगन हो ज़ज्बा हो तो इंसान क्या कुछ नहीं कर सकता। इंसान को जरुरत तो सिर्फ ओर सिर्फ अपने अन्दर झांकने की ओर अपने अंदर की काबिलियत को पहचानने की होती है। UPSC Exam की तैयारी बहुत से विद्यार्थी करते हैं। लेकिन कौन ऐसा होगा, जो अपनी नौकरी छोड़कर UPSC की तैयारी करेगाा।

हमारे देश में ऐसे देश प्रेमी और लगनशील व्यक्ति भी है। जिनका मकसद पैसा कमाना नहीं, बल्की देश के लिए कुछ करना है। उनमें से एक है श्रेयांश सुराणा। जिन्होने CA की नौकरी को छोड़ दि और देश सेवा के लिए UPSC को चुना।

UPSC पास करने के लिए छोड़ा चार्टेड अकाउंटेड की जॉब

यूपीएससी की तैयारी करने के लिए कड़ी मेहनत की जरुरत होती है। श्रीयांश सुराणा (Shreyansh Surana) ने अपनी जॉब इसलिये छोड़ दी, क्योंकि वो देश के लिए कुछ करना चाहते थे तथा अपनी मां का सपना पूरा करना चाहते थे।

UPSC HQ
Union Public Service Commission

UPSC परिक्षा पास करके देश की सेवा में अपना योगदान दिया जा सकता है। श्रीयांश ही नहीं बल्कि और भी कई युवा है जिन्होने अपनी अच्छी खासी जॉब सिर्फ इसलिए छोड़ दी, क्योंकि उन्हें UPSC की तैयारी करनी थी।

CA की जॉब छोड़ी तो बने IRS (Indian Revenue Service)

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल (Betul) जिले के रहने वाले श्रीयांश सुराणा ने यूपीएससी क्लियर कर IRS की जॉब हासिल की हैं। भारतीय राजस्व सेवा (IRS) कोई साधारण पोस्ट नही है बल्कि IPS, IFS, IAS, मे से एक सिविल सेवा सर्विस है।

IRS में वित्तीय मंत्रालय में राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य किया जाता है। श्रेयांश ने अपने प्रथम अटेंप्ट में ही परीक्षा पास कर लिया था। पहली बार में UPSC जेसी परीक्षा पास करना ही अपने आप में एक अचिवमेंट है।

UPSC पास करके 269 वा रैंक प्राप्त किया

श्रेयांश सुराणा जी CS एवम CA के पेपर पहले ही दे चुके थे और उसमें पास भी हुए थे। UPSC Exam निकालने के लिए छात्र कई बार 2 से 3 बार Exam देते है। फिर भी वह इसे नही निकाल पाते। लेकिन श्रेयांश ने एक बार में ही परीक्षा पास कर लिया था।

इससे पहले भी श्रेयांस ने जो और एग्जाम दिया था, उसे भी एक बार में पास कर लिया था। इससे पता चलता है की श्रेयांस पढ़ाई में कितना अच्छे थे। इन्होंने UPSC सिविल सर्विस एग्जाम की परीक्षा में 269 वा रैंक प्राप्त किया है।

परिवार के सभी सदस्य करते हैं श्रेयांश की तारीफ

घर वालो की माने तो श्रेयांश पढ़ाई करने से कभी पीछे नहीं हटे तभी तो चार्टेड अकाउंट की जॉब हासिल किया और जॉब करने लगें। श्रेयांश अपनी मां की वजह से आज CA की जगह IRS की जॉब पर है। क्योंकि उनकी माँ चाहती थी कि वह UPSC की तैयारी करें। घर के सभी लोग इस बात से खुश हे की श्रेयांश भारतीय राजस्व सेवा (IRS) ऑफिसर बन गए है।

मां ने कहां इतना ही ज्ञान है तो कलेक्टर क्यू नही बनते

सुरू से ही पढ़ाई में होशियार श्रेयांश सुराणा अपने ज्ञान से घर वालो को भी प्रकाशित करते थे। वे अपनी मां को कुछ ना कुछ नया ज्ञान देते रहते थे। श्रेयांस का जनरल knowledge काफी अच्छा था। यूंही उनकी माता जी ने एक बार कह दिया की इतना ज्ञान है, तेरे पास तो कलेक्टर क्यों नहीं बन जाता। फिर क्या था श्रेयांश के दिमाग में बात घर कर गई और वो UPSC की तैयारी में जुट गए।

जॉब के साथ परिक्षा की तैयारी करने लगे। श्रेयांस ने ऐसी तैयारी की एक ही बार में परीक्षा पास कर ली। ये बात जब श्रेयांस की मां को पता चली तो मां को बेहद खुशी हुई। श्रेयांस ने अपनी जॉब छोड़कर UPSC की तैयारी की तथा उसमें पहले Attempt में सफल हुए। श्रेयांस के सफल होकर IRS बनने पर हम उन्हें बधाई देते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here