Thursday, August 5, 2021
Home > India > WHO में डॉ हर्षवर्धन को बड़ी ज़िम्मेदारी, भारत का डंका पूरे विश्व में बजा, इस दिन ताजपोशी होगी

WHO में डॉ हर्षवर्धन को बड़ी ज़िम्मेदारी, भारत का डंका पूरे विश्व में बजा, इस दिन ताजपोशी होगी

Image Credits: Twitter

New Delhi: भारत की मोदी सरकार में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) 22 मई को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के कार्यकारी बोर्ड अध्यक्ष का पद संभालेंगे। डॉ हर्षवर्धन कोरोना महामारी के खिलाफ भारत की तरफ से जंग में सबसे कारगर रहे हैं। आपको बता दें की डॉ हर्षवर्धन जापान के डॉ हिरोकी नकातानी की के ऐठन पर अब विराजमान होंगे, जो WHO के 34 सदस्यों के बोर्ड के वर्तमान अध्यक्ष हैं।

खबर है की विश्व स्वास्थ्य संगठन की बैठक में भारत की तरफ से नामित किए गए डॉ. हर्षवर्धन को नियुक्त करने का प्रस्ताव 19 मई को विश्व के 194 देशों ने पारित किया। अभी डॉ. हर्षवर्धन का पद संभालना केवल औपचारिकता के टूर पर देखा जा रहा है, जब यह फैसला हुआ था कि वह WHO की दक्षिण-पूर्व एशिया ग्रुप के लिए भारत की तरफ से नामित होंगे। फिर सभी देखो और सदस्यों की रज़ामंदी से ये तय किया गया था कि भारत मई से शुरू होने जा रहे 3 साल के कार्यकाल के लिए कार्यकारी बोर्ड में रहेगा।

भारतीय केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि भारत में अभी तक प्रति 1 लाख आबादी पर कोरोना महामारी से लगभग 0.2 मामले प्राण जाने के आए हैं, वहीँ दुनियाभर का यह आंकड़ा 4.1 प्रति लाख है। भारत में मंगलवार को कोरोना की वजह से 3,163 लोगो के प्राण जाना पाया गया और COVID-19 संक्रमित मरीजों की कुल मामलों 1,01,139 हो गई है।

कोरोना संकट के दौर में देशभर में स्वास्थ्य इंतजामों का जिम्मा संभाल रहे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन विश्व स्वास्थ्य संगठन के 34 सदस्यीय एग्जीक्यूटिव बोर्ड के अगले चेयरमैन होंगे। अधिकारियों ने बताया कि हर्षवर्धन 22 मई को पदभार संभालेंगे। इससे विश्व पटल पर भारत की ताकत और भी बुलंद हो जाएगी।

मीडिया की खबर के मुताबिक, 22 मई को एग्जीक्यूटिव बोर्ड की बैठक होनी है। इसमें हर्षवर्धन का चुना जाना तय है। बोर्ड के चेयरमैन का पद कई देशों के अलग-अलग ग्रुप में 1-1 साल के हिसाब से दिया जाता है। पिछले साल तय हुआ था कि अगले एक साल के लिए यह पद भारत के पास रहेगा। हर्षवर्धन एग्जीक्यूटिव बोर्ड की मीटिंग की अध्यक्षता करेंगे। यह मीटिंग साल में 2 बार होती है। पहली जनवरी और दूसरी मई के आखिर दिनों में।

दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना के कहर से लगातार जूझ रही है। पूरी दुनिया में इस COVID-19 वायरस से प्राण गवाने वालों की संख्या 3 लाख 23 हजार से ज्यादा हो गई है और संक्रमितों की संख्या 49 लाख को पार कर गई है। जबकि 18 लाख 58 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना पर जीत पाई है। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में जान गवाने वालों की संख्या 90 हजार को पार कर गई है और 15 लाख 27 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

कोरोना वायरस के कारण ब्राजील में एक दिन में 1179 लोगों के प्राण चले गए है। यह देश में एक दिन में अब तक जय जानों की सबसे बड़ी संख्या है। ब्राजील में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 17,971 हो गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के सदस्य देशों ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र एजेंसी की कोरोना प्रतिक्रिया की स्वतंत्र जांच के लिए सहमति व्यक्त की।

वही भारत के पडोशी देश नेपाल में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 300 पार पहुंच गई है। नेपाल में 18 मई तक कोरोना संक्रमण (कोविड-19) महामारी के नौ नए मामले आने के साथ ही देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 304 हो गई है और 2 जान जाने के मामले सामने आए हैं। नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय और जनसंख्या मंत्रालय ने 1 दिन पहले यह जानकारी दी थी।

Ek Number News
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
https://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!