Sunday, December 5, 2021
Home > Ek Number > रोहित शेट्टी को अपने स्ट्रगल के दिन याद आये, कहा आज जो भी हूँ वह अजय देवगन की वज़ह से ही हूँ

रोहित शेट्टी को अपने स्ट्रगल के दिन याद आये, कहा आज जो भी हूँ वह अजय देवगन की वज़ह से ही हूँ

Rohit Shetty Ajay Devgal

File Photo Credits: Twitter

Mumbai: फिल्मों में गाड़ियां दौड़ानी हों या फिर उड़ानी हो, यह काम फिल्म निर्माता रोहित शेट्टी (Rohit Shetty) से बढियाँ कोई नहीं कर सकता है। रोहित शेट्टी को आज के समय में हर कोई जानता है। उनके निर्देशन में बनी फ़िल्में ज़बरदस्त तरीके से धूम मचा रही है।

हाल ही में उनकी फिल्म सूर्यवंशी ने कमाल कर दिया है और अब 200 करोड़ के क्लब में शामिल भी हो जाएगी। फिल्म को दर्शकों का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है। रोहित शेट्टी इस समय बेस और सफल फिल्म निर्माता बन चुके हैं। उनकी बनाई फिल्मे सारे रिकॉर्ड तोड़ रही है।

सूर्यवंशी फिल्म की सफलता को लेकर रोहित शेट्टी काफी खुश हैं। हाल ही में रोहित ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान अपने स्ट्रगल के दिनों को याद किया। उस वक़्त रोहित शेट्टी थोड़े भावुक हो गए थे। उन्होंने कहा कि संघर्ष के दिनों में उन्हें मात्रनाम मात्र के पैसे मिलते थे अपने खर्चे के लिए।

रोहित शेट्टी ने बताया कि जब उन्होंने काम करना शुरू किया था, तब उन्हें 35 रुपए सैलरी मिलती थी। फिल्म सेट पर जाने के लिए पैसे नहीं होते थे, तो वह पैदल ही चल पड़ते थे, जिसमें डेढ़ से 2 घंटे का समय लगता था। आज वह जिस मुकाम पर पहुंचे हैं उसके लिए उन्होंने बहुत कड़ी मेहनत की है।

रोहित शेट्टी ने बताया कि उनका सफर आसान नहीं रहा है। उन्होंने कहा, ‘लोगों को लगता है कि मैं फिल्म इंडस्ट्री से आता हूं, तो मेरे लिए यह काफी आसान रहा होगा, लेकिन ऐसा नहीं है। कई बार ऐसा होता था कि मुझे खाना और ट्रैवल में से किसी एक को चुनना पड़ता था, क्योंकि जेब में सिर्फ एक चीज के लिए पैसे होते थे’। आहे वे भावुक हुए।

रोहित शेट्टी ने इस बातचीत में बताया की ‘उस वक़्त हम सांता क्रूज में रहते थे। इसके बाद हम दहिसार में मेरी दादी के घर शिफ्ट हुए। हमारे पास रहने के लिए घर तक नहीं था। मैं आर्थिक रूप से बहुत परेशान रहता था। मेरी दादी दहिसर में रहती थी, जो काफी दूर था। फिर मैंने पैदल ही चलना आरम्भ किया। मैं मलाड से अंधेरी तक पैदल चलाता, इसमें मुझे डेढ़ से दो घंटे का समय लगता था। मुझे इस वजह से काफी रास्ते पता हैं। जब कभी मैं अपने ड्राइवर से बोलता हूं कि इस रूट पर चलो, तो वह रिव्यू मिरर में मुझे देखता है और सोचता है कि मुझे इतने रस्ते कैसे पता, क्या मैं पहले चोर था।’ रोहित थोड़ा हँसते हुए बोलते हैं।

बता दें की रोहित शेट्टी ने साल 2003 में अजय देवगन के साथ ‘जमीन’ (Zameen) फिल्म बनाई थी, जो की एक ठीक ठाक फिल्म रही। इसके बाद उन्होंने साल 2006 में फिल्म ‘गोलमाल’ (Golmal) बनाई। यह कॉमेडी फिल्म बड़ी हिट साबित हुई। इसके बाद रोहित शेट्टी (ने सफलता की नई नई बुलंदियों को छुया और एक के बाद एक सफल फिल्मों का निर्देशन करते रहे।

ज्ञात हो की रोहित शेट्टी एक्टर और एक्शन कोरियोग्राफर एमबी शेट्टी के बेटे हैं। रोहित की ‘गोलमाल’ फिल्म को लोगो द्वारा बहुत पसंद किया गया। गोलमाल फ्रेंचाइजी की हर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हो गई।

उन्होंने ‘बोल बच्चन’ (Bol Bachchan), ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ (Chennai Express) और ‘दिलवाले’ (Dilwale) जैसी सफल फिल्मों का निर्देशन किया है। हाल ही में रोहित शेट्टी के निर्देशन में बनी फिल्म ‘सूर्यवंशी’ (Sooryavanshi) हिट हो गई है और बम्पर कमाई कर रही है। रोहित शेट्टी अजय देवगन (Ajay Devgan) को बहुत मानते हैं और अपने करियर की शुरुआत अजय देवगन के साथ करने और अभी तक उन्हें अपनी फिल्मो में लेने के चलते अपनी सफलता (Success) का श्रेय उन्हें ही देते हैं।

ENN Team
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
https://eknumbernews.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!