महिला ने बेडरूम से ही ऐसा बिजनेस शुरू किया की हर महीने 40 लाख रूपए से भी ज्यादा कमा रही है

0
14542
Money Demo Photo
Huge Money Demo File Photo

Presentation File Photo Used

Delhi: आज दुनिया भर में महिलाएं पुरुषों से हर क्षेत्र में आगे निकल रही हैं। शायद ही कोई ऐसा काम होगा जो महिलाएं ना कर सके, इसीलिए महिलाएं जिस जिस भी क्षेत्र में कदम रख रही, वहां पर उन्होंने सफलता के झंडे गाड़े हैं।

आज महिलाएं बड़ी-बड़ी कंपनियों के सीईओ जैसे बड़े पद पर रहकर पूरी कंपनियों को आसानी से मैनेज कर रही है। ऐसा बताया भी जाता है कि साइकोलॉजी के अनुसार एक महिला पुरुषों के मुकाबले बेहतर मैनेजमेंट कर सकती है।

शायद यही वजह है कि जब कोई महिला ठान लेती है कि उसे कुछ करना है, तो वह सफल होकर ही मानती है। ऐसी एक कहानी हम आज लेकर आए हैं, जिसमें एक महिला के जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आने के बाद वह डिप्रेशन में चली गई।

Success Story and Money
Success Presentation Image

जिसके पश्चात कुछ ऐसी प्रेरणा मिली कि आज 40 लाख रुपए प्रति माह से ज्यादा (Over 50K Dollars Per Month) कमा रही और खुद के दम पर बेडरूम (Bedroom) से निकले बिना ही बिल्ड कर दी यह कंपनी। वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) की ताकत का इससे बेहतर और कोई एग्जांपल नहीं हो सकता।

सफलता कि ये कहानी है ब्रिटेन स्थित वेल्स

आज हम जो कहानी लेकर आए हैं, वह भारत से हजारों किलोमीटर दूर ब्रिटेन के अंतर्गत आने वाले वेल्स सिटी से ताल्लुक रखती है। दर्शन यहां की रहने वाली एक महिला जिनका नाम मिचेला मोर्गन (Michaela Morgan) है।

Make Money File Photo

इन्होंने अपने बेडरूम में ही रहते रहते डिजिटल आर्टिस्ट (Digital Artist) के तौर पर एक कंपनी को बिल्ड किया। जिससे पिछले 3 सालों में ही महीने के 38 से 40 लाख रुपए कमाना शुरू कर दिया। Michaela की सफलता सुनने में काफी आसान लगती है परंतु, यहां तक पहुंचने का उनका सफर काफी परेशानी और दुखों से भरपूर था पर उन्होंने कभी हार नहीं मानी।

कुछ साल पहले चली गई थी डिप्रेशन में

मिचेला से मिली जानकारी के अनुसार 2019 में वह अपने शादीशुदा जीवन के बहुत ही खराब दौर से गुजर रही थी। जिसके चलते 2019 में ही उनका तलाक हो गया। इस घटना के पश्चात मिचेला काफी डिप्रेशन में चली गई।

उनका यह डिप्रेशन तब और बढ़ गया जब उनके सबसे करीबी और प्रिय डॉगी का कैंसर बीमारी के चलते देहांत हो गया। मिचेला बताती है कि, वह जीवन से इस कदर निराश हो चली थी कि 3 सप्ताह तक तो वह अपने बिस्तर से भी बाहर नहीं निकली।

उन्हें महसूस हुआ कि इस तरह जीवन नहीं जिया जा सकता कुछ तो करना ही होगा। लेकिन वह घर से बाहर निकलने में खुद को मेंटली फिट फील नहीं कर रही थी। इसलिए उन्होंने निर्णय लिया कि घर में रहते हुए ही कुछ किया जाए।

बचपन से था आर्ट का शौक, यह उनके लिए फायदेमंद रहा

दोस्तों मैं मिचेला को बचपन से ही पेंटिंग्स का काफी शौक था। इसलिए अपने डिप्रेशन से उबरने के लिए उन्होंने अपने बेडरूम में ही बैठे-बैठे दिन-रात पेंटिंग्स करना शुरू कर दी। पेंटिंग्स को इस तरीके से तैयार करती थी कि उन्हें प्रोफेशनली बेचा भी जा सके।

परंतु जल्दी उन्हें एहसास हो गया कि कंप्यूटर में उनके द्वारा बनाई गई पेंटिंग की प्रिंटिंग की प्रक्रिया काफी जटिल हो सकती है। इसलिए उन्होंने इसके सॉल्यूशंस के तौर पर डिजिटल आर्ट को समझने की कोशिश शुरू कर दी और पाया की डिजिटल पेंटिंग (Digital Painting) ही उनके लिए आमदनी का बेहतर सोर्स हो सकता है।

कुछ इस तरह तैयार किया उन्होंने अपने डिजिटल आर्ट का बिजनेस

मिचेला से मिली जानकारी के अनुसार जब उन्होंने अपने आप को आर्टिस्ट के रूप में स्थापित करने की तैयारी की तो महामारी के चलते लॉकडाउन लागू हो गया। इस दौरान घर में रहते हुए उन्होंने डिजिटल आर्ट (Digital Art) से संबंधित अपनी एजुकेशन को और बढ़ाया एवं लगातार सीखती रही।

काम के परफॉर्मेंस को बढ़ाने के लिए एप्पल का आईपैड प्रो खरीदना उनके लिए बहुत फायदेमंद रहा। मिचेला मोर्गन मीमो आर्ट्स क्रिएट करते हुए एक सफल डिजिटल आर्टिस्ट के रूप में प्रसिद्ध हो चुकी हैं। वह कभी-कभी हंस कर कहती हैं कि, काश यह काम मैंने 10 साल पहले शुरू किया होता।

आज वह पिछले 1 साल से हर महीने अपने Mimo Arts के जरिए 40 लाखों रुपए से भी ज्यादा प्रतिमाह आसानी से कमा लेती हैं। मिचेला स्वयं कहती है कि मैंने कभी सोचा नहीं था कि मेरे आर्ट का शौक मुझे प्रोफेशनली इतना ऊपर पहुंचा देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here