Tuesday, October 27, 2020
Home > India > तबलीगी की सुनामी महाराष्ट्र, कर्नाटक जैसे राज्यों में, 1 दिन में कोरोना के 227 नए मामले आये।

तबलीगी की सुनामी महाराष्ट्र, कर्नाटक जैसे राज्यों में, 1 दिन में कोरोना के 227 नए मामले आये।

Tablighi Jamaat Markaj Corona
Spread the love

Bhopal, Madhya Pradesh: निजामुद्दीन इस समय बहुत चर्चा का विषय बना हुआ है। दिल्ली का निजामुद्दीन भारत में कोरोना वायरस का नया अड्डा बन गया है। मजहबी में शामिल हुए लोगो को पहचान पाना संभव नही हो रहा है। ये लोग भारत के कई कोनो में जाकर छिप गए है। पुलिस और प्रशासन बहुत सख्ती से कदम उठा रही है। इन लोगो को खोज कर निकलना ही सबसे बड़ा उद्देश्य है।

इन लोगो के कारण भारत के कई स्थान कोरोना वायरस के अड्डा बन सकते है। इस बात को लेकर लोगो मे दहशत का माहौल बन गया है। मजहबी कार्यक्रमों में ढाई हजार लोग शामिल हुए है। पुलिस और प्रशासन ने कहा है कि तमिलनाडु के इरोड जिला के जो भी लोग वहाँ पर उपस्थित हुए थे, उन सभी को स्वंय से आगे आकर कोरोना वायरस की जाँच करानी चाहिए।

Nizamuddin Masjid Corona
Demo Image

जिले के 4 ऐसे क्षेत्र हैं, जहाँ मुस्लिमों की जनसंख्या सर्वाधिक है। पुलिस ने उन चारों इलाक़ों में सख्ती अपनाते हुए घेरा बन्दी कर दी है। परेशानी की बात ये है कि तबलीगी जमात में शामिल हुए उन्हीं लोगों की इन्फॉर्मेशन सामने आई हैं, जो ट्रेन या बस से गए थे। जमात की इरोड शाखा को कहा गया है कि वह सभी लोगों की जानकारी पुलिस को दें।

झारखंड में पिछले एक सप्ताह में 37 लोग निजामुद्दीन के तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होकर वापस आये हैं। वरिष्ठ अधिकारियों ने निर्देश दिया है कि इन सभी की कोरोना जाँच की जाए। दिल्ली पुलिस ने झारखंड पुलिस को 46 लोगों की जानकारी दी है, जो तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुये थे। राँची के हिन्दपीढ़ी के एक मस्जिद से भी 24 लोगों को पकड़ा गया था, ये वँहा छुपकर बैठे हुए थे इस बात के सामने आते ही रांची में हड़कंप मच गया है। राँची के अलग-अलग इलाके से अब तक 28 विदेशी नागरिकों को बरामद किया गया हैं।

कर्नाटक सरकार ने बताया है कि 62 इंडोनेशियाई और मलेशियाई मुसलमान तबलीगी जमात की इमारत में शामिल हुए थे और उन्होंने कुछ समय के लिए कर्नाटक में भी पनाह ली थी। कर्नाटक की सरकार के लिए ये बडी चुनौती की बात हो गई है। अभी तक 12 लोगों को चिह्नित कर लिया गया है और उन्हें क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया है। राज्य का गृह मंत्रालय पूरे मामले पर निगरानी बनाये हुये है।

महाराष्ट्र के अहमदनगर में भी 34 ऐसे लोगों की पहचान की गई है। इनमें से 29 विदेशी हैं। इनमें से 14 के जाँच रिपोर्ट आ गई हैं और उनमें 2 कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। उन दोनों के अतिरिक्त 3 अन्य लोग भी कोरोना वायरस का शिकार हुए हैं, जो उनके टच में आए।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया है कि तबलीगी ने जो भी किया, वो तालिबानी आतंकवाद के समान है। उन्होंने कहा कि ऐसे आपराधिक को कभी माफी नही दी जा सकती है। उन्होंने अपनी जान के साथ कई हजारों की जान को भी संकट के घेरे में डाल दिया है। तबलीगी जमात ने कई अन्य लोगों को भी कोरोना वायरस का शिकार बना दिया है।

केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा कि ऐसे लोगों और संगठनों के विरुद्ध कड़े क़दम उठाए जाने चाहिए, जो सरकार के आदेशों की आलोचना करते हैं। इधर दिल्ली में पूरे निजामुद्दीन क्षेत्र को सैनिटाइज्ड करने की प्रक्रिया जोरो से चल रही है। पुलिस और साउथ दिल्ली के निगम कर्मचारी मिल कर सैनिटाइजर का स्प्रे करने में लगे हुए हैं। इस संकट की घड़ी में सभी को साथ देना होगा।


Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!