Tuesday, October 27, 2020
Home > India > सुशांत केस: संदीप सिंह ने अर्नब गोस्वामी मानहानि केस किया, 200 करोड़ रुपये की डिमांड की, ये ज्यादा हो गया

सुशांत केस: संदीप सिंह ने अर्नब गोस्वामी मानहानि केस किया, 200 करोड़ रुपये की डिमांड की, ये ज्यादा हो गया

Arnab v Sandeep
Spread the love

File Image Credits: Twitter

Mumbai: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के कथित दोस्त संदीप सिंह (Sandeep Singh) एक बार फिर चर्चा में हैं। अब संदीप सिंह ने अब लीगल स्टेप लिया है और अपने खिलाफ चलाई गई खबरों को लेकर रिपब्लिक टीवी पर मानहानि का केस किया है। बॉलीवुड के 34 बड़े प्रोड्यूसर्स द्वारा केस किये जाने के बाद अब संदीप सिंह ने भी अर्नब गोस्वामी के खिलाफ बड़ी कार्यवाही की है और मानहानि का नोटिस भेजा।



संदीप सिंह ने अपने वकील द्वारा रिपब्लिक टीवी को क़ानूनी नोटिस भिजवाया है। इस बात की जानकारी खुद संदीप सिंह ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिये भी दी है। इसके अलावा अर्नब पर कई आरोप लगाए और 200 करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है। सुशांत मामले के बाद से सुर्ख़ियों में आये संदीप ने अब बड़ा कदम उठाया है।

बता दे की संदीप सिंह ने रिपब्लिक टीवी और एंकर अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मानहानि का नोटिस भेजा है। इस शिकायत में वकील ने कहा, मेरे क्लाईंट बॉलीवुड के एक सम्मानित प्रोड्यूसर और फिल्ममेकर हैं। जिनके बारे में चैनल पर लगातार गलत खबरें चलाई गईं। जबकि चैनल ये जानता था कि मेरे क्लाईंट, सुशांत सिंह राजपूत को उनके करियर के शुरूआती दिनों से जानते हैं।

आहे कहा गया की आपने सार्वजिनक रूप से मेरे क्लाईंट को सुशांत मामले में मास्टरमाइंड कहा और जानबूझकर सीबीआई और पुलिस जांच की दिशा मोड़नी चाही। अब जब सच सामने आ चुका है तो ये साफ है कि ये सब केवल टीआरपी बटोरने के लिए किया गया। इस बात के सुबूत हैं कि चैनल ने अपनी टीआरपी के लिए झू’ठी और बो’गस खबरें चलाईं।



आगे कहा गया की मुझे चैनल के ही एक अधिकारी ने साफ कहा कि अगर हम चैनल को कोई फायदा नहीं देते हैं। तो हमारे खिलाफ ऐसी खबरें चलाई जाएंगी और संदीप सूंघ को सुशांत की घटना का मास्टरमाइंड बताया जाएगा। आपको बता दें कि, संदीप सिंह ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पेज पर नोटिस की पूरी कॉपी शेयर की है।

इसमें बहुत सी बातें लिखी हैं। नोटिस में कहा गया की 3 अगस्त को गणेश हिवारकर नाम के एक इंसान ने सुशांत से अपने रिश्ते के बारे में बात की, लेकिन संदीप के खिलाफ एक भी बात नहीं की। बाद में चैनल ने उसी आदमी का चेहरा ब्लर कर एक स्टिंग चलाया था, जहां वो ये कहता दिखता है कि दिशा और सुशांत का केस जुड़ा है, सुशांत ने संदीप को फोन कर बताया था कि, वो दिशा के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस रखेगा और संदीप ने ये बात और कई लोगों को बताई, जिसके बाद 13 की रात कई लोग सुशांत के घर गए। सुशांत ने 50 सिम बदले, और भी अन्न बातें थी।

आगे इस नोटिस में लिखा गया की 20 अगस्त को केवल संदीप सिंह को पॉइंट करते हुए एक स्टोरी चलाई गई। जहां कहा गया कि संदीप सिंह ने एंबुलेंस को सारे ईशारे दिए, अंतिम संस्कार का सारा काम अपने हाथ में ले लिया और पुलिस को इशारे किए। जिस जर्नलिस्ट ने ये स्टोरी की, उसने बाद में माना कि ये सब उसने अर्णब गोस्वामी के दबाव में किया।



इस नोटिस में साफ है कि रिपब्लिक टीवी पर आरोप ;आगये गए हैं। नोटिस में लिखा है कि संदीप सिंह के खिलाफ सारी खबर, फुटेज और आर्टिकल डिलीट किए जाएं और उनसे सार्वजनिक रूप से माफी मांगी जाए। इसके अलावा मेरे क्लाईंट को 200 करोड़ रूपये का हर्जाना मानहानि के लिए देना चाहिए। ऐसे में अब देखना होगा कि, आखिर अब इस नोटिस पर रिपब्लिक टीवी और अर्नब गोस्वमी की तरफ से क्या बयान सामने आता है।

बता दे कि, हाल ही में पूरा बॉलीवुड ही अर्नब के खिलाफ कोर्ट पहुंचा था। रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्वामी की रिपोर्टिंग को लेकर अब बॉलीवुड काफी गुस्से में है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, निर्माताओं ने न्यायालय से फिल्म उद्योग के खिलाफ कथित तौर पर गैर जिम्मेदाराना और अपमानजनक टिप्पणियां करने या प्रकाशित करने से रिपब्लिक टीवी और टाइम्स नाउ को रोकने का अनुरोध किया है।

इसके अलावा उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर उनके सदस्यों का मीडिया ट्रायल रोकने का भी आग्रह किया है। बताया जा रहा है कि, कोर्ट पहुंचने वालों में चार फिल्म इंडस्ट्री एसोसिएशन और 34 निर्माताओं द्वारा दायर वाद में उद्योग से जुड़े व्यक्तियों की गोपनीयता के अधिकार में हस्तक्षेप करने से उन्हें रोके जाने का भी अनुरोध किया गया है।



Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!