Tuesday, August 4, 2020
Home > India > खोली खाली करने की बात पर कांग्रेस में यह असर, प्रियंका गाँधी को सरकारी बँगला छोड़ने के आदेश

खोली खाली करने की बात पर कांग्रेस में यह असर, प्रियंका गाँधी को सरकारी बँगला छोड़ने के आदेश

Priyanka Gandhi Vadra Modi
Spread the love

Demo Photo Used

New Delhi: इन दिनों कांग्रेस को अपने हांथो से देश की सत्ता जाने का मलाल जरूर रहा होगा। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया गया है। खबर आई है की 1 महीने के भीतर अर्थात एक अगस्‍त तक प्रियंका गांधी को लोधी रोड स्थित सरकारी बंगला नंबर-35 को खाली करना होगा। प्रियंका गांधी पर बंगले का 3 लाख 46 हजार रुपये बकाया है। एसपीजी सुरक्षा नहीं होने के कारण वह सरकारी बंगले में नियमों के मुताबिक नहीं रह सकती हैं।

प्रियंका गांधी को सरकार के दिए आदेश के मुताबिक 1 अगस्त से पहले अपना सरकारी बंगले खाली करना होगा। एक आधिकारिक रिलीज में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने कहा कि प्रियंका गांधी को दिल्ली के लोधी रोड पर बंगले को खाली करने की जानकारी दे दी गई है। इस वक्त उनके पास एसपीजी सुरक्षा नहीं है। प्रियंका गांधी को कहा गया है कि अगर वह एक महीने में सरकारी बंगला खाली नहीं करती हैं तो उन्हें जुर्माना देना होगा।

आपको बता दे की नियमो के मुताबिक़ Z+ सुरक्षा वाले व्यक्ति सरकारी आवास के हकदार नहीं होते हैं। ऐसे में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया गया है। कुछ केस में केवल CCA (कैबिनेट कमेटी आवास) की सिफारिश पर गृह मंत्रालय द्वारा सुरक्षा धारणा आकलन के आधार पर दिया जा सकता है।

गत वर्ष ही गाँधी परिवार को दी गई स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) की सुरक्षा वापस ले ली गई थी और उन्हें केंद्रीय रिजर्व सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) की जेड प्लस सुरक्षा दे दी गई थी, लेकिन उन्होंने सरकारी आवास खाली नहीं किया था। एसपीजी सुरक्षा सोनिया, उनके बेटे राहुल और बेटी प्रियंका के नई दिल्ली स्थित आवासों से हटा ली गई है और अब उन्हें इसी कारण सरकारी आवास भी छोड़ना होगा।

साल 2000 में ही ये नियम बना दिया गया था कि जिस व्यक्ति के पास SPG सुरक्षा नहीं है, उसे किसी तरह का सरकारी बंगला नहीं दिया जाएगा. पहले तय हुआ था कि इस श्रेणी में बंगले को मार्केट रेट से 50 फीसदी अधिक के किराये के रुप में दिया जाएगा, लेकिन बाद में इसे 30 फीसदी तक कर दिया गया।

जी न्यूज़ चैनल के सम्पादक सुधीर चौधरी ने आदेश की कॉपी शेयर करते हुए लिखा है, गाँधी एक और विशेषाधिकार खो रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सरकार द्वारा प्रदान किए गए अपने लुटियंस बंगले को खाली करने के लिए नोटिस दिया। उसे बंगला इसलिए मिला था क्योंकि उन्हें एसपीजी (SPG) संरक्षण प्राप्त था। अब उसने एसपीजी कवर खो दिया है और इसलिए अब उन्हें बंगला भी छोड़ना होगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुताबिक, प्रियंका गांधी वाड्रा पर 30 जून 2020 तक लगभग 3,46,677 रुपए बकाया है। उन्हें सरकारी बंगला छोड़ने तक का किराया और बकाया राशि को जमा करने का नोटिस जारी किया गया है। आपको बता दें कि प्रियंका गांधी वाड्रा को 1997 को एसपीजी सुरक्षा के रूप में लोधी एस्टेट स्थित बंगला नंबर 35 आवंटित किया गया था।

News Agency tweeted that Congress leader Priyanka Gandhi Vadra asked to vacate government allotted accommodation within one month, by Ministry of Housing and Urban Affairs.

प्रियंका गांधी को इसी प्रोटेक्शन के तहत लोधी एस्टेट में एक सरकारी बंगला अलॉट था, अब केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय का कहना है कि क्योंकि ये प्रोटेक्शन नहीं है, इसलिए आपको एक अगस्त तक बंगला खाली करना होगा। ऐसा ना करने पर अतिरिक्त किराया देना होगा। इसको लेकर CG मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र की मोदी सरकार को आड़े हांथो लिया है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, कि तुम्हारे माथे का पसीना, हकीकत का बयां है। दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रियंका गांधी को मिले नोटिस को लेकर एक ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा है, भले कहते रहो कि तुमको डर नहीं लगता, कि तुम्हारे माथे का पसीना, हकीकत का बयां है।


Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!