Friday, September 25, 2020
Home > India > SCO बैठक में पाक ने भारत का गलत नक्शा दिखाया, तो अजित डोभाल ने विरोध में कमाल किया

SCO बैठक में पाक ने भारत का गलत नक्शा दिखाया, तो अजित डोभाल ने विरोध में कमाल किया

Ajit Doval News
Spread the love

Demo Edited Image Used

Delhi: वैश्विक मंच पर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को अपनी किरकिरी करवानी पड़ी है। बता दे की पाकिस्तान ने रूस (Russia) में हुए शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक में भारत के गलत नक्शे का इस्तेमाल किया। जिसके बाद रूस ने पाकिस्तान को चेतावनी दे दी। पाकिस्तान की इस हरकत पर भारत ने भी सख्त ऐतराज जताया है।

जानकारी हो कि रूस में मंगलवार को हुई शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सदस्यों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक हुई। इस बैठक में पाकिस्तान ने अपना नया नक्शा दर्शाया था, जिसे भारत ने काल्पनिक और गलत बताया है। इस नक्शे को पाक सरकार ने हाल ही में मंजूरी दी है। भारत के NSA अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) ने इसका विरोध करते हुए बैठक छोड़ने का फैसला किया और मीटिंग से वाकआउट (Walks Out) कर गए।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस मामले में कहा कि इस मीटिंग में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने जानबूझकर एक गलत और काल्पनिक नक्शा पेश किया, जिसे पाकिस्तान आज-कल इस्तेमाल कर रहा है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान ने जो किया वह बैठक के नियमों का उल्लंघन था और भारत ने मेजबान से विमर्श करने के बाद बैठक छोड़ दी।

इस घटना के बाद रूस की तरफ से भारत को विश्वास दिलाया गया है कि वह पाकिस्तान की इस करतूत का समर्थन नहीं करता है। रूस ने कहा कि उसे उम्मीद है कि इससे भारत और रूस के रिश्ते पर कोई असर नहीं पड़ेगा। पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने अगस्त की शुरुआत में अपना नया नक्शा जारी किया था। इसमें पाकिस्तान ने लद्दाख और जम्मू-कश्मीर के सियाचिन के साथ गुजरात के जूनागढ़ और सर-क्रीक को भी अपना बताया था। पाकिस्तान की इस हरकत को भारत ने साफ तौर पर नकार दिया था।

जाने कौन हैं अजित डोवाल, जो देश के जेम्स बांड कहे जाते हैं

देश के दुश्मन के ही देश में घुसने से लेकर पाक कैंपों में जाने वाले NSA प्रमुख अजित डोभाल (Ajit Doval) को डर का कोई अहसास ही नहीं होता है। भारतीय इंटरनल खुफिया एजेंसी इंटेलीजेंस ब्यूरों (IB) के चीफ रह चुके और काउंटर टेरेरिज्म का मास्टर माने जाने वाले डोभाल की लाइफ के कई किसे और उनके कारनामें बड़े ही रोचक है। अजित डोवाल जासूसों की दुनिया के बादशाह है।

इस भारतीय जेम्स बांड के वे कई मिशन इतने हैरतअंगेज रहे थे की उन्हें जानने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डोवाल को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बना दिया। अजित डोवाल ने 7 साल पाकिस्तान में रहकर भारत के लिए जासूसी की है। पाकिस्तान में मुस्लिम बनकर एक अंडरकवर जासूस बनकर उन्होंने वहां से कई अहम जानकारियां भारत भेजी, जिससे भारत के खिलाफ कई षड्यंत्र विफल हिये गए थे।

उस दौरान डोभाल ने वहां अपने कई एजेंट भी बनाए, माना जाता है की वो सब आज अपना काम बखूबी कर रहे हैं। 7 साल पाकिस्तान में रहने के बाद डोवाल वापस भारत भी आ गए। पाकिस्तान में वे सभी मज़दूर बने, यो कभी धावे वाले बने, तो कभी मौलवी बने। कभी भी अजित डोवाल पकडे नहीं गए। जून 2014 में ईराक में दुनिया के सबसे खतरनाक माने जाने वाले संगठन आईएसआईएस ने 46 भारतीय नर्सों को बिना एक खरोंच आये वापस ले आना बहुत बड़ी बात थी।

पूरी दुनिया आज तक नही समझ पाई की अजित डोवाल से यह कारनामा कैसे किया। जब ईसिस वाले बाकी देशों के बंधकों को बिलकुल भी नहीं बक्श रहे थे। तब अजित डोभाल ने सीरिया के पास किसी गुप्त ठिकाने से 46 नर्सों की सुरक्षित वापसी के लिए ईसिस संघठन से मांडवली कर ली थी, जो आज तक कोई नहीं जानता है।

अजित डोवाल वह नाम है, जो आज के समय में पूरे विश्व में खुफिया एजेंसी और जासूसों की दुनिया में सबसे ज्यादा सफल है। आपको बता दें की जम्मू कश्मीर से धरा 370 हटाने के पीछे भी अजित डोवाल की ही सूझबूझ रही थी। आपको याद हो तो जब आर्टिकल 370 को कश्मीर से हटाया गया था तब अजित डोवाल कश्मीर में स्थानीय लोगो के साथ पोहा खाते और चाय पीते देखे गए थे। उस वक़्त डोवाल ने खुद ही भारतीय सुरक्षाबलो को गाइड लाइन देने और आदेश देने का काम किया था।


Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!