Wednesday, April 1, 2020
Home > India > राज ठाकरे ने सरकार से कहा, भारत कोई धर्मशाला नही, जो समुदाय सुरक्षित नही है, वो देश छोड़ सकता है।

राज ठाकरे ने सरकार से कहा, भारत कोई धर्मशाला नही, जो समुदाय सुरक्षित नही है, वो देश छोड़ सकता है।

Raj Thakrey on CAA
Spread the love

Photo Credits: IANS

Mumbai: मोदी सरकार ने नागरिकता कानून देशभर में लागू कर दिया है। इस बात से विपक्ष के लोग बौखला गए है। सरकार के इस कानून का जमकर विरोध कर रहे है। इस कानून का प्रदर्शन देश भर में बढ़ता ही जा रहा है। नागरिकता संशोधन बिल को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन के देखते हुए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने शनिवार को पुणे में कहा कि वित्तीय संकट की ओर किसी का ध्यान ना जाये इसके लिए सरकार ने लोगो को भटकाने के लिए CAA बिल पेश किया गई।

इसमें अमित शाह को कामयाबी भी हासिल हुई। उन्होंने आगे बताया कि, “इस देश में और नागरिकों की क्या आवश्यकता हैं, जनसंख्या की वजह से पहले ही बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। फिर बाहर के लोग को पनाह देने की बात क्यों? फिर चाहे वो किसी भी धर्म समुदाय का हो”। राज ठाकरे बे बताया कि नेपाल, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से आने वाले विशेष समुदाय के लोगो को देश से बाहर जाने का रास्ता दिखाना चाहिए।

उन्होंने आगे बताया कि, “भारत कोई धर्मशाला का स्थान नहीं है। मानवता का जिम्मा केवल भारत ने अपने सर नहीं ले रखा है। विशेष समुदाय के लोगो को यहाँ रहने में सुरक्षित महसूस नही हो रही है तो वो दूसरे मुल्क में जाकर रह सकते है। उन्हें यहां रहने का कोई अधिकार नहीं है। मुंबई में बहुत अधिक संख्या में बांग्लादेशी को पनाह मिल गई है इनकी पहचान कर इनको जल्द देश से बाहर किया जाना चाहिए”।

राज ठाकरे ने सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि देश मे 130 मिलियन की आवादी तो पहले से ही, अब इसके बाद और अधिक लोगो को देश मे लाने की क्या जरूरत है? जो पहले से रह रहे है उनको भी कोई खास सुविधा नही प्रदान की जा रही है। इतनी अधिक आवादी को संभलना ही सबसे बड़ी बात है। इसके बाद और लोगो को पनाह देने की बात क्यो हो रही है।

आधार कार्ड को लेकर राज ठाकरे ने सरकार से सवाल किया है की, “मतदान के लिए आधार कार्ड चल सकता है, तो नागरिकता को साबित करने के लिए आधार कार्ड क्यों नहीं काम कर सकता? आधार कार्ड के लिए लंबी लाइन में खड़े लोगों का क्या उपयोग है?” इन सब सवालों को लेकर राज ठाकरे ने सरकार को सवालों के घेरे में लाकर खड़ा कर दिया है।

Adopting a tough stance, Maharashtra Navnirman Sena (MNS) President Raj Thackeray on declared that illegal migrants from Pakistan, Bangladesh and Afghanistan who have settled in India deserve to be “thrown” out as they pose an unnecessary burden on the country.

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!