Thursday, July 2, 2020
Home > India > भाजपा सांसद ने रिपोर्ट साँझा की, इस जगह भारतीय PM की जगह सोनिया गांधी गई थी चीन: जाने किस्सा

भाजपा सांसद ने रिपोर्ट साँझा की, इस जगह भारतीय PM की जगह सोनिया गांधी गई थी चीन: जाने किस्सा

Sonia Gandhi
Spread the love

Image Credits: Twitter Post

Bengaluru/Karnataka: भाजपा और PM मोदी को घेरते घेरते अब कांग्रेस खुद ही घिर गई है। अब कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। कांग्रेस और सोनिया गाँधी के चीन के साथ गहरे संबंध और चीन से फंडिंग मिलने की खबरें सामने आने के बाद कर्नाटक से भाजपा सांसद शोभा करंदलाजे (BJP MP Shobha Karandlaje) ने एक अंग्रेजी अख़बार की न्यूज़ कटिंग का हवाला देते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर कांग्रेस और सोनिया गाँधी को घेरा है।

सांसद शोभा करंदलाजे ने 2008 का किस्सा याद दिखाते हुए बताया कि बीजिंग जिसने उस साल ओलंपिक की मेजबानी की थी, उसने तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को इस आयोजन के लिए आमंत्रित नहीं किया था, परन्तु बदले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को आमंत्रित किया था।

कर्नाटक भाजपा सांसद द्वारा ट्वीट की गई न्यूज़ रिपोर्ट में कांग्रेस पार्टी और सीपीसी (CPC) के बीच के निजी संबंधों को पॉइंट किया गया है। जिसमें कहा गया है कि तत्कालीन चीनी राष्ट्रपति हू जिंताओ ने सोनिया गांधी से MoU पर हस्ताक्षर करने के लिए मीटिंग की थी। जिस दिन विश्व भर के 70 राष्ट्राध्यक्ष 2008 के ओलंपिक के लिए बीजिंग पहुंचे थे।

एक अख़बार की न्यूज़ रिपोर्ट के मुताबिक ये MoU कथित रुप से कांग्रेस और CPC के मध्य उच्च-स्तरीय जानकारी और सहयोग का आश्वाशन करने के साथ साथ दोनों पक्षों को जरुरी चर्चा, क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर एक-दूसरे से विचार विमर्श करने का अवसर प्रदान करने से संबंधित है।

भाजपा सांसद ने अपने ट्वीट में बताया है कि हर वक़्त गांधी परिवार पावर और पर्क्स का आनंद लेना चाहता था, जो कि प्रधानमंत्री के लिए है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, सोनिया गांधी ने तत्कालीन PM मनमोहन सिंह के स्थान पर बीजिंग ओलंपिक में भाग लिया था। यह प्रधानमंत्री के कार्यालय का केवल एक उपहास नहीं था, बल्कि भारत की लोकतांत्रिक प्रणाली का भी अपमान था। यह पूरी तरह से गलत था।

भाजपा ने सोनिया गांधी पर राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) में चीन से फंडिंग लेने का आरोप लगाया है। भाजपा ने कांग्रेस द्वारा चलाये आरजीएफ (RGF) को साल 2006-07 में भारत में चीनी दूतावास से 90 लाख रुपये दान में मिलने का मामला उठाया है। जानकरी हो, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ट्रस्ट की चेयरपर्सन हैं। वही पार्टी के वरिष्ठ नेता जैसे राहुल गांधी, डॉ मनमोहन सिंह, पी चिदंबरम और प्रियंका गांधी वाड्रा ट्रस्टी के रूप में काम करते हैं। यही नहीं बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरोप लगाया है कि PMNRF का पैसा RGF में डायवर्ट किया गया है।

Karnataka BJP MP tweeted, Sonia Gandhi attended the Beijing Olympics instead of then PM Manmohan Singh. Always the Gandhi family wanted to enjoy Power and Perks, that is meant for the PM. This wasn’t just a mockery of the Office of the Prime Minister, but a subversion of India’s democratic system and ethos.

Sonia Gandhi at the 2008 Beijing Olympics as a ‘personal’ guest of the Chinese government. Dr Manmohan Singh, then PM, was not extended the invite even though other heads of states were present. Social media users said, Congress must explain why Sonia Gandhi, who held no public office then, accepted Chinese hospitality.

आपको बता दे की भाजपा के आरोप और मीडिया रिपोर्ट्स में बतया गया है की UPA सरकार के वक़्त साल 2005-2006 में राजीव गाँधी फाउंडेशन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दान मिला। 2006-2007 की रिपोर्ट में भी यही खुलासा किया गया है। इसके बाद 2007-2008 में भी पीएमएनआरएफ से फाउंडेशन को ‘दान’ मिला था। अब कांग्रेस और सोनिआ गाँधी के इस फाउंडेशन RGF पर सोशल मीडिया पर अनेक ट्रेंड चल रहे है।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, ‘संकट में लोगों की मदद करने के लिए बना पीएमएनआरएफ, यूपीए के कार्यकाल में राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसे दान कर रहा था। पीएमएनआरएफ बोर्ड में कौन बैठा, सोनिया गांधी। राजीव गांधी फाउंडेशन की अध्यक्षता कौन करता है, सोनिया गांधी। यह पूरी तरह से निंदनीय है।’ अब इस मुद्दे पर भाजपा ने कांग्रेस को घेरना चालु कर दिया है।

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!