Tuesday, November 24, 2020
Home > Ek Number > सुब्रमण्यम स्वामी ने कांग्रेस के इस घोटाले पर बताई बड़ी बात, सख्त कार्रवाई की मांग की, जानें मामला

सुब्रमण्यम स्वामी ने कांग्रेस के इस घोटाले पर बताई बड़ी बात, सख्त कार्रवाई की मांग की, जानें मामला

Subramanian Swamy To Congress RGF Scam
Spread the love

Presentation Photo Used on Subramanian Swamy Claim

Delhi: कांग्रेस देश की मोदी सरकार को घेरने के लिए भारतीय सेना पर सवाल उठाने से तक नहीं चूक रही है। हाल ही में कांग्रेस के अनेक सोशल मीडिया एकाउंट्स ने भाजपा के खिलाफ भ्रामक और झूठी जानकारी साँझा की गई थी। जिस पर विवाद भी हुआ और खबरें भी बानी थी। अब भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने बड़ा दावा करते हुए कहा है कि वर्ष 2015 में उन्होंने “आरजीएफ घोटाला” (RGF Scam) का मुद्दा उठाया गया था।

भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट करते हुए कहा कि उन्होंने 2015 में शहरी विकास मंत्रालय के साथ मामला उठाया और देश की सरकार से भूखंड आवंटन रद्द करने और भवन को जब्त करने की मांग करते हुए कहा, वर्ष 1988 में, कांग्रेस प्रधान कार्यालय के निर्माण के लिए भूखंड आवंटित किया गया था और इसलिए इसका इस्तेमाल निजी उद्देश्यों के लिए नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा, “सरकार को अब मेरी मांग पर कार्रवाई करनी चाहिए।” इसमें कांग्रेस अब घिरती नज़र आ रही है।

आपको बता डी की हाल ही में कांग्रेस की मुस्किले बढ़ती देखे दे रही है। कल भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरोप लगाया कि यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान पीएमएनआरएफ राजीव गांधी फाउंडेशन (Rajiv Gandhi Foundation RGF) को पैसे दान कर रहा था। जेपी नड्डा ने दावा किया कि कांग्रेस नीत राजीव गांधी फाउंडेशन को 2005-2006 के दौरान चीन के दूतावास से बहुत फंडिंग और रकम प्राप्त हुई थी। उन्होंने कांग्रेस से सवाल किया है की चीन के साथ आपका गुपचुप रिश्ता क्या है।

नड्डा ने आज मध्य प्रदेश में वर्चुअल रैली को संबोधित किया था, तभी उन्होंने कांग्रेस पर यह खुलासा करते हुए सवाल उठाया। दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिल्ली में कांग्रेस के चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के साथ एक MoU को लेकर भी सवाल खड़े किये है। उन्होंने कहा कि अब तक कांग्रेस ने यह नहीं बताया कि यह MoU कोनसे काम के लिए था और चीनी पार्टी से भारतीय पार्टी कांग्रेस का यह रिश्ता क्या कहलाता है।

भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने सबूत के तौर पर टीवी रिपोर्ट्स के ज़रिये कांग्रेस पर आरोप लहये कि राजीव गांधी फाउंडेशन को साल 2005-2006 में चाइनीज एंबेसी से मोटी रकम नगौए हुई थी। ये है चाइना और कांग्रेस का गुपचुप रिश्ता। यह रकम करीब 3 लाख अमरीकी डालर बताई जा रही है। उन्होंने राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन द्वारा फंडिंग मिलने पर कांग्रेस से जवाब माँगा है।

अपने संबोधन के दौरान नड्डा ने डोकलाम की याद दिलाते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भी अड़े हांथों लिया। जेपी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस वही पार्टी है, जब 2017 के अगस्त में चीन और भारत के बीच सीमा विवाद चल रहा था, उस समय वक़्त राहुल गांधी चीन के राजदूत से गुपचुप मुलाकात कर रहे थे। गलवान घाटी की घटना पर भी कांग्रेस और राहुल गाँधी ने पॉलिटिक्स की है।


Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!