Thursday, April 9, 2020
Home > Ek Number > कांग्रेस से विधायक भागे, अब विधानसभा से कांग्रेस भागी, बकरे की अम्मा कब तक ख़ैर मनायेगी Meme Viral

कांग्रेस से विधायक भागे, अब विधानसभा से कांग्रेस भागी, बकरे की अम्मा कब तक ख़ैर मनायेगी Meme Viral

Shivraj Singh Chouhan Kamalnath MP
Spread the love

Presentation Photo

Bhopal, Madhya Pradesh: मध्यप्रदेश में अब कमलनाथ सरकार के पास दिखने एयर दिखाने को कुछ बचा ही नहीं है। अब मध्यप्रदेश में आज जो हुआ, उसी की उम्मीद की जा रही थी। कोरोना महामारी की वजह से कमलनाथ सरकार (Kamalnath Sarkar) को फ्लोर टेस्ट से फिलहाल राहत मिल गई है। स्पीकर ने मध्य प्रदेश विधानसभा को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी है।

मध्यप्रदेश विधानसभा में राज्यपाल लालजी टंडन के भाषण की शुरुआत में ही उठापटक शुरू हो गई थी। भौजपा की तरफ से नरोत्तम मिश्रा ने राज्यपाल से कहा कि जो सरकार अल्पमत में है, क्या राज्यपाल उसी सरकार की तारीफ कर रहे हैं, किन्तु अनसुनी करके लालजी टंडन बोलते रहे। फिर राज्यपाल ने एक मिनटे से भी कम में अपने भाषण को खत्म कर दिया। राज्यपाल कहा कि विधायक मध्य प्रदेश के गौरव की रक्षा करें और संविधान के नियमों का पालन करें।

Kamalnath On Bats
Demo Image

आपको बता दे की मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल टंडन को एक पत्र भेजा। इस पत्र में आरोप लगाया गया कि भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के कुछ विधायकों को अपनी गिरफ्त में लिया हुआ है। यहां वह कांग्रेस के बागी विधायकों का जिक्र कर रहे थे, जो फिलहाल बेंगलुरु में हैं। कमलनाथ ने लिखा कि ऐसी स्थिति में फ्लोर टेस्ट करवाना अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक है।

On Madhya Pradesh Floor Test Twitter users post jokes and meme that “Bakre ki Maa kab tak khair manaye gi”. It is soo funny on Shivraj Singh Chouhan and Kamalnath Condition in MP Government Crisis.

सूत्रों की माने तो भाजपा ने सभी विधायको को 3 बसों में सवार करके विधानसभा लाया गया था। इनके साथ पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान भी बस में मौजूद रहे। भाजपा के विधायक विधानसभा पहुंच चुके हैं। एक बस में शिवराज सिंह चौहान आगे अर्थात कंडक्टर सीट पर बैठे थे। वहीं दूसरी बस में नरोत्तम मिश्रा कंडक्टर सीट पर बैठे देखे दिए थे।

कर्णाटक के बेंगलुरु में एक रिसोर्ट में रह रहे सिंधिया खेमे के विधायक अभी कहां हैं यह खबर अभी नहीं है। सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने से पहले ही ये विधायक बेंगलुरु भेज दिए गए थे। जिस पर कांग्रेस और भाजपा में खींचतान चल रही है।


Demo Image

इस विधायक और रिसोर्ट वाले खेल में कांग्रेस भी पीछे नहीं है। कांग्रेस ने अपने विधायकों को जयपुर में रखा था और इन विधायकों को भोपाल लाया गया था। यहां इन्हें एक होटल मेरियट में रखा गया था। तो भाजपा के अपने विधायकों को मनेसर से रविवार की देर रात को भोपाल लाया और उन्हें आमेर ग्रीन होटल में रुकवाया था। भाजपा और कांग्रेस ने अपने विधायकों को होटलों में रखकर मीडिया और लोगों से दूर रखा है।

अब लोग यह कह रहे है की मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को अब आप भगोड़ा कह सकते है, क्यूंकि इनके पास विधानसाभा में बहुमत नहीं है और ये बहुमत परिक्षण से भाग खड़े हुए है। असल में 22 विधायक कांग्रेस से इस्तीफा दे चुके है, 14 मार्च को राज्यपाल लालजी टंडन ने निर्देश दिया था की 16 मार्च यानि आज मध्य प्रदेश विधानसभा में कमलनाथ फ्लोर टेस्ट का सामना करे।

Cortoon on Madhya Pradesh Floor test and Kamalnath MP Government Crisis. There could be a possibility of adjournment getting extended beyond March 26, after all they have the excuse of Corona.

कांग्रेस और कमलनाथ लगातार कहते रहे की हमारे पास पूरी संख्या है और सरकार बनी रहेगी, पर आज 16 मार्च को विधानसभा को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया और कारण कोरोना वायरस को बताया गया। भाजपा का आरोप है की कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट का सामना करने की हिम्मत नहीं की और विधानसभा अध्यक्ष से सभा को 26 मार्च तक के लिए स्थगित करवा दिया हैं।

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *