Thursday, July 2, 2020
Home > Ek Number > सोनू सूद के इंजीनियर से अभिनेता और फिर रियल हीरो बनने का सफर जानें, यह बंदा आज दुआएं पा रहा

सोनू सूद के इंजीनियर से अभिनेता और फिर रियल हीरो बनने का सफर जानें, यह बंदा आज दुआएं पा रहा

Sonu Sood Life Story
Spread the love

Image Credits: Twitter

Delhi: आज की डेट में भारत के लोग हैरान है की फ़िल्मी परदे पर विलेन बनने वाला अभिनेता असली ज़िन्दगी में हीरो निकला। इस बात को पूरी तरह से साबित किया है बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने। आज सारा विश्व कोरोना वायरस महामारी के कहर की चपेट में है, तो ऐसे में सोनू सूद प्रवासी मज़दूरों और जरूरतमंदों के लिए फरिश्ता बनकर आ गए हैं। सोनू सूद लगातार प्रवासी श्रमिकों को उनके घर तक पहुंचाने का अनमोल काम कर रहे हैं। अब तक वह हजारों प्रवारी मजदूरों के उनके घर पहुंचा चुके हैं।

अब तो आलम यह हो गया है की देश के कोने कोने से जो भी सोनू सूद से मदद के लिए सन्देश भेज रहा है या ट्वीट कर रहा है, सोनू सूद और उनकी टीम उसका रिप्लाई दे रहे हैं और उनकी हर संभव सहायता भी कर रहे हैं। जरूरतमंद लोगों के लिए फरिश्ता बने सोनू सूद के बारे में आज हम आपको उनकी असल ज़न्दगी के बारे में कुछ खास तथ्य बताने जा रहे हैं।

अभिनेता सोनू सूद ने बॉलीवुड के अलावा साउथ की फिल्मों में भी अभिनय किया है। सोनू सूद मूल रूप से पंजाब के मोगा के रहने वाले हैं। मोगा में उनके पापा की कपड़े की दुकान थी, जिसका नाम बॉम्बे क्लॉथ हाउस रखा गया था। सोनू सूद को बचपन से ही अभिनय का शौक था। परानु सोनू के माता पिता ने उन्हें इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए नागपुर भेजा। वहां सोनू ने Electronics ब्रांच से Engineering की पढाई पूरी कर ली थी। परन्तु वे अब भी अभिनेता बनना चाहते थे।

सोनू सून ने अपने घरवालों से कुछ वक़्त माँगा की वे अपना सपना पूरा करना चाहते है, वर्ना वे वापस आकर पिता जी की कपड़े की दुकान में व्यापार करने लगेंगे। ​इसके बाद सोनू मुंबई चले गए और फिल्म लाइन में स्ट्रगल आरम्भ कर दिया। अपने Filmi संघर्ष के दिनों में सोनू एक फ्लैट में 6 लोगों के साथ शेयर में रहा करते थे। बहुत काम खोजने के बाद भी कोई काम नहीं मिल रहा था।

इस दौरन सोनू ने अपनी फोटो और बायो कहीं कही भेज रखा था। सोनू को सन्देश आया कि साउथ इंडियन फिल्म के लिए उन्हें सेलेक्ट किया गया है और ऑडिशन इंटरव्यू के लिए बुलावा था। फिर सोनू ऑडिशन हुआ। सोनू सूद को उनकी बॉडी और कद काठी की वजह से बहुत तारीफ मिली और सेलेक्ट कर लिए गए। अब सोनू को साउथ इंडियन फिल्म में काम मिल गया था।

सबसे पहले इस पंजाब के गबरू और नागपुरी इंजीनियर सोनू ने तमिल फिल्म में काम किया, फिर तेलुगू और फिर बॉलीवुड फिल्मों में काम मिलने लगा। कुछ फिल्मे करने के बाद सोनू सूद असली पहचान ​सलमान खान की फिल्म ‘दबंग’ के छेदी सिंह के किरदार से मिली। फिर हिंदी फिल्मो में विलेन की भूमिला निभाने वाला यह अभीनेता आज कोरोना और लॉक डाउन की संकट में असली हीरो बनकर सामने आया।

सोनू असल में एक हीरो निकले। हजारों मजदूरों की सहायता की हैं। अब तब कई हज़ार मजदूरों को घर पहुंचा चुके हैं। उन्होंने एक मीडिया चैनल से बात करते हुए कहा कि हम हमारे उन मजदूरों को जिन्होंने हमारे घर और ऑफिस बनाए हैं। उन्हें ऐसे सड़कों पर नहीं छोड़ सकते। आज पूरा देश सोनू सूद को सलाम कर रहा है।

सोनू सूद मुंबई से लगातार प्रवासि श्रमिकों को उनके घर भेज रहे हैं। सोनू अपने इस काम को और बेहतर ढंग से अंजाम दे सकें इसके लिए उनकी टीम ने मिलकर टोल फ्री नंबर जारी किया है। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर भी साँझा की। सोनू और इनके दोस्तों ने प्रवासी मज़दूरों के मदत के लिए एक कॉल सेंटर जैसा काम घर से ही स्टार कर दिया है। अब वे लगातार कॉल पर डाटा इकठ्ठा करके लोगो की मदत कर रहे है।

आपको बता दे की इस टोल फ्री नंबर के बारे में सोनू ने एक मीडिया एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा की मेरे पास रोज हजारों कॉल्स आ रहे थे। मेरे परिवार और दोस्त सारा डाटा इकट्‌ठा कर रहे थे, तब हमने देखा कि ऐसे कई लोग हैं, जो हम तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। इसलिए हमने कॉल सेंटर खोलने का सोचा, यह टोल फ्री नंबर है। हमारे पास एक टीम है, जो अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। हमें नहीं पता हम कितनों की मदद कर पाएंगे, लेकिन हम कोशिश करेंगे।

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!