Thursday, April 9, 2020
Home > Ek Number > पायल रोहतगी की FIR कॉपी देखकर आपको हैरानी होगी, पूरा सोशल मीडिया अरेस्ट हो जाये

पायल रोहतगी की FIR कॉपी देखकर आपको हैरानी होगी, पूरा सोशल मीडिया अरेस्ट हो जाये

Payal Rohatgi Arrest and FIR Copy
Spread the love

Big Boss TV शो की पूर्व प्रतियोगी बॉलीवुड एक्ट्रेस पायल रोहतगी (Payal Rohatgi) को राजस्थान की बूंदी पुलिस ने गुजरात अहमदाबाद से गिरफ्तार कर किया। यह खबर अब पुरे सोशल मीडिया पर तेज़ी से फ़ैल रही है। खबर भी सच है। पायल रोहतगी Arrest की पुष्टि स्वयं राजस्थान पुलिस के SP ने कर दी थी। इस मसले पर पुलिस IPS ममता गुप्ता ने मीडिया को बताया कि पायल रोहतगी को अरेस्ट करके जयपुर लाया जा रहा है।

मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, एक्ट्रेस पायल रोहतगी ने जवाहर लाल नेहरू और उनके पिता मोतीलाल नेहरू (Motilal Nehru) पर कुछ कमेंट किया था। इसी बात को लेकर पायल के खिलाफ राजस्थान के बूंदी के सदर थाने में केस दर्ज करवा दिया गया। इसके अलावा पायल पर कई अन्य गंभीर आरोप और धाराएं भी लगायी गई है।

असल में Payal Rohatgi ने खुद के अरेस्ट होने की जानकारी ट्विटर पर लिखकर दी और बताया की ‘मुझे राजस्थान पुलिस ने मोतीलाल नेहरू पर एक वीडियो शेयर करने के लिए गिरफ्तार किया है। जिसे मैंने गूगल से जानकारी लेकर बनाया था। बोलने की आजादी एक मजाक है’। पायल ने इस ट्वीट पर राजस्थान पुलिस, PMO, होम मिनिस्ट्री को टैग किया है।

पायल रोहतगी को सोशल मीडिया पर लोगो का समर्थन मिलने लगा है। यूजर पायल को सपोर्ट करने के लिए ट्रेंड #IStandWithPayalRohargi चला रहे हैं। अभी यह ट्रेंड Top Twitter Trend बना हुआ है। इसके अलावा एक दूसरा खेमा भी है, जो पायल के अरेस्ट होने से खुश है और ट्रेंड #ISupportRajasthanPolice चला रहा है।

सूत्रों से मिली उस FIR कॉपी को देखा जाये, जिसे लेकर Payal Rohatagi को Arrest किया गया है, तो आपको बड़ी ही हैरानी होने वाली है। नीचे हम आपको FIR Copy दिखा रहे है, जो पायल पर सभी धाराओं और केस को बयां कर रही है। यह केस धारा 154 दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत करवाया गया है।

Payal Rohatgi Arrest

पायल रोहतगी के खिलाफ यह पुलिस शिकायत चर्मेश शर्मा नामक शिकायतकर्ता ने की थी, जो की राजस्थान के बूंदी थाने में 10 ऑक्टूबर 2019 को फ़र्ज़ कर ली गई थी। मतलब यह मामला 2 महीने पुराना है। शिकायतकर्ता चर्मेश शर्मा के आसार पायल रोहतगी ने 21 सितम्बर 2019 को सोशल मीडिया पर एक वीडियो डाला था, जिसमे वे जवाहरलाल नेहरू और मोतीलाल नेहरू के बारे में कुछ जानकारी दे रही थी।

Payal Rohatgi FIR Copy 1

जिसके लिए चर्मेश शर्मा ने पुलिस से मांग कर डाली की पायल रोहतगी के खिलाफ आई टी एक्ट की धारा 66A , 67 IPC 295 महिला प्रतिषेद अधिनियम 1986 और अन्न धाराओं के तहत कड़ी कार्यवाही की जाये। इस पर राजस्थान पुलिस ने पायल के खिलाफ धारा 66D 67 और IT एक्ट के तहत मामला बना दिया।

Payal Rohatgi FIR Copy 2

आपको बता दें की सूत्रों से मिली जानकरी के अनुसार शिकायतकर्ता चर्मेश शर्मा राजस्थान कांग्रेस के एक विधायक के करीबी बताये गए है और लोग तथा सोशल मीडिया यूजर इस केस को राजनैतिक बैर से जोड़कर देख रहे हैं। चर्मेश शर्मा के अनुसार पायल रोहतगी ने अपने वीडियो में पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी के देहांत को रूस के साथ जोड़ा, जो दोनों देशो के लिए सही नहीं है।

हमारी अर्थात ‘एक नंबर न्यूज़’ टीम की पड़ताल के अनुसार पायल द्वारा बताई गई सारी बातें गूगल और अन्न मीडिया वेबसाइट में उपलब्ध है। इतना ही नहीं लाल बहादुर शास्त्री जी (India’s 2nd Prime Minister Shri Lal Bahadur Shastri) के देहांत और उसमे रूस के लोगो की भूमिका पर एक बॉलीवुड फिल्म ‘The Tashkent Files 2019’ भी बन चुकि है, जिसमे यह सभी बातें और निष्कर्ष बताये गए हैं। आपको बता दें की लाला बहादुर शास्त्री जी का स्वर्गवास उस समय के रूस के ताशकंद में रहस्यमई परिस्थियों में हुआ था।

आपको बता दे की राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और गुजरात में भाजपा की। यहाँ पर राजस्थान पुलिस ने पायल को गुजरात से गिरफ्तार किया है। लोग इस अरेस्ट को कांग्रेस की राजनैतिक साजिश बता रहे हैं। इनका कारन कांग्रेस और गाँधी परिवार का पूर्व में नेहरू होना बताया जा रहा है। आपको बता दें की इंदिरा गाँधी फ़िरोज़ खान से शादी से पहले इंदिरा नेहरू थी और उनके पिता जवाहरलाल नेहरू थे। फिर इस प्रेम विवाह की जिल्लत से बचने के लिए इंदिरा नेहरू को इंदिरा गाँधी और फ़िरोज़ खान को फ़िरोज़ गाँधी बना दिया गया था।

शिकायत करता को इस फिल्म The Tashkent Files 2019 पर और उसके सभी कलाकारों पर भी एक FIR करवा देनी चाहिए और देश के लाखों सोशल मीडिया यूजर और ट्विटर यूजर पर भी शिकायत कर देती चाहिए, क्योंकि अभिव्यक्ति की आज़ादी तो केवल शेहला रशीद, कन्हैया कुमार, उमर खालिद और JNU की टुकड़े टुकड़े गैंग के लिए है। अगर कोई और कुछ सवाल उठाये या आरोप लगाए, तो उसे जेल की हवा खानी पड़ेगी।

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *