Home > Ek Number > देश के जेम्स बांड अजित डोवाल का यह मिशन सफल हुआ, अब बॉस अगले अभियान से चौंकाएंगे

देश के जेम्स बांड अजित डोवाल का यह मिशन सफल हुआ, अब बॉस अगले अभियान से चौंकाएंगे

Ajit Doval Mission
Spread the love

Image Courtesy: Social Media

Bhopal/Madhya Pradesh: सुरक्षा बलों ने जम्‍मू-कश्‍मीर में HM कमांडर रियाज की कहानी का समापन कर दिया है। वह 8 साल से फरार था और अब किस्से भी समाप्त हो जायेंगे, लेकिन क्‍या आपको पता है उसके पीछे देश के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल (Ajit Doval) का एक मिशन है। अजित डोभाल के ‘ऑपरेशन जैकबूट’ नामक अभियान के तहत ही घाटी में सफाई का काम ज़ारी रहा है। जो अब पूरा हो गया। डोवाल का यह सफाई मिशन बुरहान से लेकर रियाज तक चला।

इस मिशन की लिस्ट में आखिरी नाम रियाज का था। समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, NSA अजित डोभाल ने घाटी में ऑपरेशन जैकबूट शुरू किया था। जिसे सुरक्षाबलों ने बुधवार को सफल बना दिया। अब इस अभियान के किस्से और कहानिया वर्षों तक सुनाई और बताई जाने वाली है। अजित डोवाल के इस मिशन पर तो फिल्म भी बन सकती है।

Indian Army In Kashmir Srinagar
Demo File Image

उस समय की बात है जब जम्‍मू-कश्‍मीर के कई पढ़े-लिखे गलत राह चुनने लगे थे। उनका मंद वाश करके उन्हें देश विरोधी गतिविधियों में लगाया जा रहा था। बुरहान का वह ग्रुप कश्मीर की अलग-अलग जगहों और गावों में बिना किसी डर के संगठन बनाने लगा था। ग्रुप ने मुखबिरों की तादाद भी बढ़ा ली थी। ये स्थानीय लोगों के बीच में ही पले-बढ़े थे, इसलिए लोग उनकी मदद करते थे। लोग इनके अपना युवा मसीहा भी मानने लगे थे। जबकि ये लोग तो पाक समर्पित थे, जो स्थानीय लोगो को गुमराह कर रहे थे।

भारत के जेम्स बांड अजित डोभाल के ऐसेट्स कमाल के

पाक समर्थित कश्मीरी युवाओं के गलत संगठनों में शामिल होने से अजित डोभाल थोड़े चिंतित हो रहे थे, इसके बाद भी उन्हें अपनी रणनीति और सुरक्षा बलों की काबिलियत पर पूरा भरोसा था। NSA डोभाल को इन कठिन परिस्थितियों से निपटने के लिए जरुरी कदम उठाने की आवस्यकता महसूस हुई। डोभाल ने इसके लिए कश्मीर में अपने खबरि कहे जाने वाले सोर्स का सहारा लिया। डोभाल के इन खबरियों के बारे में सुरक्षा बलों को भी काश कुछ पता नहीं होता है। इंटेलिजेंस सर्किल में इन्हें ‘डोभाल साहब के ऐसेट्स’ कहा जाता है।

Kashmir Youth in Army
Demo File Image

भारत के जेम्स बांड अजित डोभाल ने अपने ऐसेट्स की मदत से ऑपरेशन जैकबूट का अभियान तैयार किया और जिसे सफल बनाने में एक खुफिया तंत्र ने कठिन मेहनत की। ऑपरेशन के तहत लिस्ट में वाणी के सभी 10 साथियों को भी शामिल किया गया, जो की वायरल हुई तस्वीर में दिखे थे। फिर एक एक करके सभी को धराशाही करके सफाई अभियान कल पूरा हुआ।

जासूसों की दुनिया में सबसे ज्यादा सफल

अजित डोवाल वह नाम है जो आज के समय में पूरे विश्व में खुफिया एजेंसी और जासूसों की दुनिया में सबसे ज्यादा सफल है। कहा जाता है की अजित डोवाल अपने जासूस होने के समय 7 साल तक पाक में रहे और कई खुफिया मिशन को अंजाम देने के बाद पाक से भारत भी वापस आ गए। डोवाल भारतीय इंटरनल खुफिया एजेंसी IB के चीफ भी रहे थे।

जम्मू कश्मीर से धरा 370 हटाने के पीछे भी अजित डोवाल

आपको बता दें की जम्मू कश्मीर से धरा 370 हटाने के पीछे भी अजित डोवाल की ही सूझबूझ रही थी। आपको याद हो तो जब आर्टिकल 370 को कश्मीर से हटाया गया था तब अजित डोवाल कश्मीर में स्थानीय लोगो के साथ पोहा खाते और चाय पीते देखे गए थे। उस वक़्त डोवाल ने खुद ही भारतीय सिराक्षा बालो को गाइड लाइन देने और आदेश देने का काम किया था।

Jammu Kashmir Hindi
Demo File Image

यह तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परख ही है, जो रिटायर्ड हो चुके अजित डोवाल को वापस बुलाकर उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद पर नियुक्त किया और देश की सुरक्षा को सही हांथो में सौपा। आज अजित डोवाल के नाम से देशविरोधियो और देश के विरोध में षड्यंत्र रच रहे लोगो के पसीने छूट जाते हैं। मीडिया में खबर है की अजित डोवाल सीधे बॉस प्रधानमंत्री मोदी को रिपोर्ट करते हैं और सुरक्षा बल के अधिकारी सर अजित डोवाल को। यही सिलसिला देश की सुरक्षा और अन्न मिशन में बना रहता है।

Facebook Comments

Spread the love
Ek Number
Ek Number
This is Staff Of Ek Number News Portal with editor Nitin Chourasia who is an Engineer and Journalist. For Any query mail us on eknumbernews.mail@gmail.com
http://www.eknumbernews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!